Skip to main content

ZINDGI or KHWAHISHEIN ShayariDilKi

#Shayari dil ki #Hindi me Shayari #Top Hindi Shayari 2020


Zindagi ki bahon me kho gye hain is qadar,
Ki sukoon k pal ko bhi taraste hain,
Ahamiyat badal gyi hai ,

www.shayaridilki.com

ज़िंदगी की बाँहों में खो गए हैं इस क़दर ,
की सुकून के पल को भी तरसते हैं,
अहमियत बदल गयी है ,

www.shayaridilki.com

Khwahishon ne kuch is qadar jhakjhora hai,
Dost naate rishtedaaron ke facebook post ne,
Armaano ko na jane kab kaise nichora hai,

www.shayaridilki.com

ख्वाहिशों ने कुछ इस क़दर झकझोरा है,
दोस्त नाते रिश्तेदारों के फेसबुक पोस्ट ने ,
अरमानों को न जाने कब  कैसे निचोरा है,

www.shayaridilki.com

Dil se ab bas nikalti hai khwahishein khwahishein sirf khwahishein ...
Wo adhuri ummido ka daaman ,
Wo kaali syahi k panne,
Jispe likhe hote hain mere sapne,

www.shayaridilki.com

दिल से अब बस निकलती है ख्वाहिशें ख्वाहिशें सिर्फ ख्वाहिशें। ......
वो अधूरी उम्मीदों के दामन ,
वो काली स्याही के पन्ने ,
जिसपे लिखें होते हैं मेरे सपनें

www.shayaridilki.com

Un sapno ko pura karna hai unhi ka hoke rehna hai,
Ji rha…

ZINDGI or KHWAHISHEIN ShayariDilKi

#Shayari dil ki #Hindi me Shayari #Top Hindi Shayari 2020


Zindagi ki bahon me kho gye hain is qadar,
Ki sukoon k pal ko bhi taraste hain,
Ahamiyat badal gyi hai ,

www.shayaridilki.com

ज़िंदगी की बाँहों में खो गए हैं इस क़दर ,
की सुकून के पल को भी तरसते हैं,
अहमियत बदल गयी है ,

www.shayaridilki.com

Khwahishon ne kuch is qadar jhakjhora hai,
Dost naate rishtedaaron ke facebook post ne,
Armaano ko na jane kab kaise nichora hai,

www.shayaridilki.com

ख्वाहिशों ने कुछ इस क़दर झकझोरा है,
दोस्त नाते रिश्तेदारों के फेसबुक पोस्ट ने ,
अरमानों को न जाने कब  कैसे निचोरा है,

www.shayaridilki.com

Dil se ab bas nikalti hai khwahishein khwahishein sirf khwahishein ...
Wo adhuri ummido ka daaman ,
Wo kaali syahi k panne,
Jispe likhe hote hain mere sapne,

www.shayaridilki.com

दिल से अब बस निकलती है ख्वाहिशें ख्वाहिशें सिर्फ ख्वाहिशें। ......
वो अधूरी उम्मीदों के दामन ,
वो काली स्याही के पन्ने ,
जिसपे लिखें होते हैं मेरे सपनें

www.shayaridilki.com

Un sapno ko pura karna hai unhi ka hoke rehna hai,
Ji rha hu sirf unhi sapno k liye,
Kuch kaagaz k tukro k liye,
Jinse apni khwahishe khareed saku,
Sapnon ko ji saku..

www.shayaridilki.com

उन सपनों को पूरा करना है उन्ही का होक रहना है,
जी रहा हु सिर्फ उन्ही सपनों के लिए ,
उन कागज़ के टुकड़ों के लिए ,
जिनसे अपनी ख्वाहिशें खरीद सकू
सपनों को जी सकू ,

visit:- www.shayaridilki.com




Bahut bhaag rha hu,
Har pal bas jaag rha hu,
Ji rha hu to bas us pal k liye,
Jinke sapne dekh kaam kr kr k jaag rha hu.

Comments

Popular posts from this blog

Dil ke Jajbaat

www.shayaridilki.com www.shayaridilki.com जज्बात अच्छे हैं , ख़यालात अच्छे हैं...   कुछ कहने की बात ही नही, तुम हो  तो हर लफ्ज़ सच्चे हैं......  www.shayaridilki.com www.shayaridilki.com दर्द समुन्दर भर है सीने में , दिखाना शुरू करूंगा, तो उम्र बीत जाएगी , इसलिए हसता रहता हूँ ,


पर लोग समझते हैं मुझे फर्क ही नहीं परता, क्या कहुँ किसे कहूं यही सोंच के चुप रह जाता हूँ , बता कर भी क्या फायदा , ये दुनिया समझने से पहले समझाने लगेगी, जानने से पहले जताने लगेगी, दुनिया की समाज की रस्मों से डराने लगेगी ,
और जब एक सुशांत सिंह राजपूत चला जायेगा , तब मुझसे बात करो, दिल के जज्बात कहो, ये नगमों की तरह गुनगुनाने लगेगी,
सच है काफिर होना अच्छा है , जीना अपनी शर्तों पे , खुश रहना संतुष्ट रहना , यही तो जिंदगी का रस देता सच्चा है , www.shayaridilki.com www.shayaridilki.com
खयाल ये हमने पाल रखा है , क्या करे...  मुश्किल है जीना पर ये भी सवाल दिल में  रखा है....  जियेंगे  कैसे? तुम आज हो कल भी रहोगे , रहोगे दिल में बरसों, www.shayaridilki.com  दिल के जज्बात हैं , क्या करे बदलेंगे नहीं एक दिन में, एक खालीपन स…

Shayari dil ki

Kuch guftgoo to kar lo mujhse, kya dil ka haal hai, Kuch baate tumse kuch haal tum apna batao..

Zindgi ki har Khwahish puri ho sakti hai, Bas dil se use pura krne ka jajba hona chahiye... Mehnat se na Sharmao use krne ke liye dil me aag honi chahiye...
Zindgi tu kitni haseen hai, Jaha v dikhti hai to khushi deti hai...


A Shayari tribute to our dear late Sushant Singh Rajput

#Shayari dil ki #Hindi me Shayari #Top Hindi Shayari 2020



उस सितारे का टूटना दुःख नहीं देता ,
लेकिन इस आँखों के तारे का जाना क्यों दे रहा ,

 ग़म में डूबा  मन आँखों में फैली नमी,
और दिल से लग रहा है टूटा  है बंधन ,

तेरे आने से जो ख़ुशी होती थी तेरे जाने का ग़म उससे कहीं ज्यादा है,
दिया ये दर्द तूने अपने चाहने वालों को कैसा ये भी कम  ही नहीं हद्द से ज्यादा है,

www.shayaridilki.com

www.shayaridilki.com
ये मुस्कान ये हंसी , सब झूठे निकले, तू कलाकार उम्दा निकला, पर क्यों हम से रूठ के निकले, हमने तो प्यार दिया था दिल खोल के, क्यों चले गए तुम हमे छोड़  के........  www.shayaridilki.com